कुल्टी में संत रविदास की फोटो क्षतिग्रस्त


धाकड़ खबर | 10 Oct 2019

कुल्टी में संत रविदास की फोटो क्षतिग्रस्त
कुल्टी। थाने में शिकायत के बाद दो गुटों में जम कर मारपीट, चलीं लाठियां। स्थिति नियंत्रण के लिए पुलिस ने भी चटकाई लाठियां, कई घायल। चार घायलों को दाखिल कराया गया जिला अस्पताल में, चार गिरफ्तार। कुल्टी थाना अंतर्गत पत्थरखाद इलाके में मंगलवार की रात संत रविदास के फोटो को क्षतिग्रस्त होने के बाद दो गुटों में बुधवार को जमकर मारपीट हुई. बुधवार की सुबह भारतीय अंबेडकर कमेटी (एन) के महासचिव नगवा मोची ने कुल्टी थाने में शिकायत दर्ज कराई कि पत्थरखाद में स्थित संत रविदास की तस्वीर को स्थानीय निवासी अमन ठाकुर पत्थर मार कर क्षतिग्रस्त कर रहा था. जब दो युवकों ने उससे पूछताछ की तो वह भाग गया. घटना की सूचना मिलने के बाद स्थानीय निवासी उग्र हो गये तथा आरोपी के खिलाफ कार्रवाई की मांग की. उन्होंने कहा कि कानून ब्यवस्था भी खराब हो गई है. शक्ति है जिसके बाद इलाके में दो गुटों के बीच मारपीट भी हुई. स्थिति नियंत्रित करने के लिए पुलिस ने लाठी चार्ज किया. इसमें कई निर्दोष निवासी भी घायल हो गये. पुलिस अधिकारी पूछताछ कर वापस चले गये. पुलिस के जाते ही दोनों पक्ष आपस में उलझ गये तथा मारपीट शुरू हो गई. इसके बाद दोनों पक्षों से लाठियां चलने लगी. कई लोग घायल हो गये. हालांकिपूर्व पार्षद सुभाष प्रसाद ने कहा की नगवा मोची कुछ अशिक्षित लोगों को लेकर दूसरे की जमीं पर कब्जा करना चाहता है. इसके लिए ही उसने वहां संत रविदास की फोटो लगा रखी है. वहां प्राथमिक विद्यालय भी स्थित है. सूचना मिलने पर पुलिस अधिकारी बल के साथ पहुंचे. स्थिति नियंत्रित करने के लिए पुलिस ने लाठी से पिटाई शुरू कर दी. कई निर्दोष लोग भी पिट गये. एक दिब्यांग को भी पुलिस ने नहीं बख्शा. इस संबंध में चार लोगों को गिरफ्तार कर पुलिस ले गई. दूसरे पक्ष के लोगों ने पुलिस अधिकारियों को बताया कि आरोपी अमन ठाकुर अपने गांव से रिश्तेदार की मौत होने के बाद परिवार सहित आया है. उसे झूठे केस में क्यों फंसाया जा रहा है? घायलों को इलाज के लिए आसनसोल जिला अस्पताल में दाखिल कराया गया है. 
 



अन्य ख़बरें

Beautiful cake stands from Ellementry

Ellementry