लिंचिंग जैसी घटनाओं से संघ का लेना-देना नहीं: मोहन भार्गव


धाकड़ खबर | 08 Oct 2019


नागपुर। आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत ने मोदी सरकार की तारीफ करते हुए कहा कि बहुत दिनों बाद देश में कुछ अच्छा हो रहा है. देश की सुरक्षा पहले से ज्यादा बढ़ी है. राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ विजया दशमी के मौके पर मंगलवार को अपना स्थापना दिवस मना रहा है. इस अवसर पर आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत ने नागपुर स्थित संघ मुख्यालय में शस्त्र पूजा की. फिर स्वयंसेवकों ने पथ संचलन किया. स्वयंसेवकों को संबोधित करते हुए आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत ने मॉब लिंचिंग (भीड़ द्वारा पीट-पीट कर हत्या) की घटनाओं का जिक्र किया. जम्मू-कश्मीर का जिक्र करते हुए आरएसएस प्रमुख ने कहा, जम्मू-कश्मीर में संविधान के अनुच्छेद 370 को हटाकर मोदी सरकार ने साबित किया कि वो इस तरह के कठोर फैसले लेने में सक्षम है. भागवत ने कहा कि लिंचिंग जैसी घटनाओं से संघ का कोई लेना-देना नहीं है. मॉब लिंचिंग की घटनाओं पर मोहन भागवत ने कहा, श्मॉब लिंचिंग जैसी घटनाओं से संघ का कोई लेना-देना नहीं होता. पर इस सबको तरह-तरह से पेश करके, उसे मुद्दा बनाने का काम चल रहा है. ये एक साजिश है, जो सभी को समझना चाहिए.
यह प्रवृत्ति हमारे देश की परंपरा नहीं है, न ही हमारे संविधान में यह है. कितना भी मतभेद हो, कानून और संविधान की मर्यादा में रहें. न्याय व्यवस्था में चलना पड़ेगा. भागवत ने कहा, ऐसी घटनाओं को रोकना हर किसी की जिम्मेदारी है. कानून व्यवस्था की सीमा का उल्लंघन कर हिंसा की प्रवृत्ति समाज में परस्पर संबंधों को नष्ट कर अपना प्रताप दिखाती है. कार्यक्रम में भागवत ने मोदी सरकार की तारीफ करते हुए कहा कि बहुत दिनों बाद देश में कुछ अच्छा हो रहा है. देश की सुरक्षा पहले से ज्यादा बढ़ी है. वहीं, जम्मू-कश्मीर का जिक्र करते हुए आरएसएस प्रमुख ने कहा, श्जम्मू-कश्मीर में संविधान के अनुच्छेद 370 को हटाकर मोदी सरकार ने साबित किया कि वो इस तरह के कठोर फैसले लेने में सक्षम है. उन्होंने कहा कि हमारा देश पहले से ज्यादा सुरक्षित है. जम्मू कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाना बड़ा कदम है. चंद्रयान-2 ने विश्व में भारत का मान बढ़ाया है.
 



अन्य ख़बरें

Beautiful cake stands from Ellementry

Ellementry