पश्चिम बंगाल: एनआरसी के डर से भाजपा कार्यकर्ता ने की आत्महत्या


धाकड़ खबर | 07 Oct 2019

पश्चिम बंगाल: एनआरसी के डर से भाजपा कार्यकर्ता ने की आत्महत्या
 
कोलकाता । इस साल लोकसभा चुनावों में बंगाल में भाजपा का चेहरा रहे निभाष सरकार ने शुक्रवार को नदिया जिले के अपने हांसखाली गांव में आत्महत्या कर ली। उन्होंने नेशनल रजिस्टर आफ सिटीजंस (एनआरसी) के आतंक से आत्महत्या कर ली है। लोकसभा चुनाव के दौरान हनुमान के वेश में निभाष की तस्वीरें सोशल मीडिया पर वायरल हुई थीं। दरअसल, एनआरसी का डर केवल मुसलमानों या बाहर से आये लोगों में ही नहीं है, बल्कि एक दहशत है। स्थानीय लोगों ने कहा कि नागरिकता संबंधी दस्तावेज नहीं होने की वजह से वह बीते कुछ दिनों से काफी परेशान थे। हाल में कोलकाता आए भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने कहा था कि केंद्र सरकार बंगाल में एनआरसी लागू करने के लिए कृतसंकल्प है। लोकसभा चुनावों में निभाष ने रानाघाट संसदीय सीट के भाजपा उम्मीदवार जगन्नाथ सरकार के पक्ष में प्रचार किया था। पुलिस का अनुमान है कि उसने कोई जहरीली चीज खा कर जान दी है। पुलिस ने बताया कि रात के समय हालत बिगड़ने के बाद निभाष को शक्तिनगर अस्पताल ले जाया जा रहा था। लेकिन उसने रास्ते में ही दम तोड़ दिया। लेकिन निभाष के घरवालों ने उसकी आत्महत्या की वजह पर चुप्पी साध रखी है।
इस घटना पर सीपीएम के वरिष्ठ नेता और पूर्व सांसद मोहम्मद सलीम ने ट्वीट किया है। उन्होंने निभाष सरकार की हनुमान वाली तस्वीर को पोस्ट कर लिखा है ... लोकसभा चुनाव के दौरान बंगाल में यह सबसे चर्चित तस्वीर थी। हनुमान की वेश में इस आदमी ने बीजेपी सांसद जगन्नाथ सरकार की जीत के लिए प्रचार किया था। इनको मिलकर बंगाल में एनआरसी के भय से अब तक 20 लोगों ने आत्महत्या की है।


 



अन्य ख़बरें

Beautiful cake stands from Ellementry

Ellementry