सूखे के आसार को देखते हुए बिहार सरकार की तैयारी, किसानों को मुफ्त धान के बिचड़े देने की योजना


धाकड़ खबर | 16 Sep 2019

पटना: 

बिहार में सूखे की आशंका को लेकर सरकार ने तैयारी शुरू कर दी है. कृषि विभाग ने इस साल किसानों को मदद देने के लिए धान के बिचड़े लगाने के लिए नर्सरी तैयार कराने की योजना बनाई है. सूखे के कारण अगर किसी भी किसान के खेत में डाले गए धान के बिचड़े सूखकर नष्ट हो जाते हैं, तो सरकार ऐसे किसानों को यथाशीघ्र नि:शुल्क धान के बिचड़े उपलब्ध कराएगी. बिहार के कृषि मंत्री प्रेम कुमार ने सोमवार को बताया कि राज्य के प्रत्येक प्रखंड में धान के बिचड़े की दो नर्सरियां लगाई जाएंगी. नर्सरी किसानों के खेतों में ही तैयार कराई जाएगी, लेकिन इस पर पैसा सरकार खर्च करेगी. 


बिहार के 7 जिलों में नहीं शुरू हुई गेंहू की सरकारी खरीद, किसानों को लूट रहे बिचौलिए

कृषि मंत्री ने कहा कि प्रत्येक जिले में वहां की जरूरत के मुताबिक बिचड़ों का चयन किया जाएगा. बिचड़े के लिए नर्सरी तैयार करने और उनमें धान के बीजों के किस्मों के चयन में स्थानीय कृषि विज्ञान केंद्र और कृषि विश्वविद्यालय के विशेषज्ञों से सलाह ली जाएगी. इसके लिए संबंधित जिलों की मिट्टी का भी ख्याल रखा जाएगा. 

टिप्पणियां

छत्तीसगढ़ सरकार ने धान व मक्का का समर्थन मूल्य तय किया

मंत्री ने बताया कि राज्य में इसके लिए करीब 52 हजार एकड़ भूमि में धान की खेती के लिए पांच हजार एकड़ से अधिक भूमि पर बिचड़े तैयार कराए जाएंगे. कुमार का कहना है कि इससे किसानों पर सूखे का असर कम हो सकेगा तथा किसानों को भी तत्काल बिचड़े मिल सकेंगे. 


अन्य ख़बरें

Beautiful cake stands from Ellementry

Ellementry