राष्ट्रपति ट्रंप पुलिसमैन हैं, या कोई --- : ओवैसी


धाकड़ खबर | 21 Aug 2019

राष्ट्रपति ट्रंप पुलिसमैन हैं, या कोई  ---: ओवैसी

न्यूज डेस्क। ओवैसी ने यह भी सवाल किया कि क्या राष्ट्रपति ट्रंप कोई पुलिसमैन हैं या चैधरी हैं, जो इस मुद्दों को हल कर सकते हैं। आगे उन्होंने कहा, मोदी ने फोन पर ट्रंप से शिकायत की। कौन हैं ट्रंप? दरअसल, हुआ यह कि हैदराबाद के सांसद असदुद्दीन ओवैसी ने मंगलवार को अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के साथ कश्मीर मुद्दे पर चर्चा करने को लेकर मोदी सरकार के फैसले पर कड़ी प्रतिक्रिया व्यक्त की। ओवैसी ने कहा कि उन्हें यह जानकर दुख हुआ कि पीएम मोदी ने अमेरिकी राष्ट्रपति के समक्ष इस द्विपक्षीय मुद्दे को उठाया। क्या वो कोई पूरी दुनिया का पुलिसमैन है या किसी तरह का चैधरी है? साथ ही उन्होंने कहा, हम सभी एक साथ कह रहे हैं कि कश्मीर एक द्विपक्षीय मुद्दा है। भारत का इस पर बहुत ही स्थिर रुख है। फिर प्रधानमंत्री मोदी को अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प को फोन पर बात करने की और शिकायत करने की क्या जरूरत थी? पीएम मोदी ने सोमवार को द्विपक्षीय और क्षेत्रीय मामलों पर चर्चा करने के लिए ट्रंप को डायल किया था, ये बातचीत 30 मिनट तक चली थी. केंद्र सरकार ने ये कदम जम्मू-कश्मीर में आर्टिकल 370 हटाने के कुछ दिनों बाद उठाया है। असदुद्दीन ओवैसी ने कहा, प्रधानमंत्री मोदी ने फोन पर ट्रंप से बात करने और एक द्विपक्षीय मुद्दे पर चर्चा करने से मैं आश्चर्यचकित और दुखी हूं। पीएम मोदी का ये कदम ट्रंप के मध्यस्थता के दावे की पुष्टि करता है। यह एक द्विपक्षीय मुद्दा है और इसमें किसी भी तीसरे पक्ष को हस्तक्षेप करने की अनुमति नहीं है। पीएम मोदी ने कुछ नेताओं की तरफ से कट्टरतापूर्ण बयानबाजी और लोगों को भारत के खिलाफ हिंसा के लिए उकसाने को लेकर बात की, और इसे शांति के लिए बाधा बताया. उनका सीधा निशाना पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान को लेकर था, जो पिछले दो हफ्तों में भारत के खिलाफ जहर उगलने का काम कर रहे हैं।