हांगकांग में लोकतांत्रिक सुधारों की मांग पर जबरदस्त रोष


धाकड़ खबर | 20 Aug 2019

हांगकांग में लोकतांत्रिक सुधारों की मांग पर जबरदस्त रोष

हांगकांग। मूसलाधार बारिश के बावजूद इस रैली में करीब एक लाख लोगों ने हिस्सा लिया। हांगकांग में सोमवार को लोकतंत्र समर्थक प्रदर्शनकारियों ने एक बार फिर से बड़ी रैली का आयोजन किया। भीड़ बहुत ज्यादा होने की वजह से बड़ी संख्या में लोग पार्क के बाहर की सड़कों पर खड़े होकर प्रदर्शन कर रहे थे। कुछ लोगों ने शहरी के वित्तीय केंद्र तक मार्च भी किया। मार्च की अनुमति नहीं मिलने की वजह से सभी प्रदर्शनकारी विक्टोरिया पार्क में इकट्ठा हुए। रैली में शामिल एक छात्र ने कहा कि बहुत अधिक गर्मी के साथ ही बारिश भी हो रही है। ऐसे में रैली में शामिल होना किसी चुनौती से कम नहीं है। इसके बावजूद हम यहां हैं क्योंकि हमारे पास कोई चारा नहीं है। प्रदर्शनकारियों ने हांगकांग को आजाद करो, लोकतंत्र अभी चाहिए, श्लाम इस्तीफा दें और स्वतंत्रता के लिए लड़ो, हांगकांग के साथ खड़े रहें के नारे लगाए थे। 
रैली में शामिल इतिहास की शिक्षिका ने कहा, मैं हर बार आऊंगी। मुझे नहीं पता यह कब खत्म होगा। हम फिर भी लड़ेंगे। जब तक यह सरकार हमें हमारे अधिकार और इज्जत नहीं देती, यह आंदोलन जारी रहेगा। प्रदर्शनकारी बिल वापस लेने के साथ ही लाम के इस्तीफे और लोकतांत्रिक सुधारों की भी मांग कर रहे हैं। पिछले हफ्ते प्रदर्शनकारियों ने हांगकांग एयरपोर्ट को घेर लिया था जिसके चलते कई उड़ानें रद्द करनी पड़ी थीं। इसके बाद प्रदर्शनकारियों को मिल रहे समर्थन में कमी आने की आशंका थी। लेकिन जमीनी स्तर पर ऐसा नहीं दिखा। दो दिन पहले शनिवार की रैली में बड़ी संख्या में बुजुर्ग भी शामिल हुए थे। संदिग्धों और अपराधियों को मुकदमे के लिए चीन प्रत्यर्पित किए जाने से संबंधित कानून के विरोध में जून में यहां विरोध प्रदर्शन शुरू हुए थे। भारी विरोध के चलते हांगकांग की मुख्य कार्यकारी कैरी लाम ने बिल निलंबित कर दिया है। लेकिन इस बिल का विरोध व्यापक होकर अब लोकतंत्र समर्थक आंदोलन में तब्दील हो गया है।