एनआरसी और एनपीआर का आपस में कोई संबंध नहीं है: अमित शाह


धाकड़ खबर | 25 Dec 2019


न्यूज डेस्क। एनआरसी में लोगों से कोई सबूत नहीं मांगा जाएगा। इसलिए उनको डरने की जरूरत नहीं है। गृहमंत्री अमित शाह ने एक इंटरव्यू में स्पष्ट किया है कि एनआरसी और एनपीआर दोनों अलग-अलग चीजें हैं और इनका आपस में कोई संबंध नहीं है। एनआरसी में लोगों से कोई सबूत नहीं मांगा जाएगा। इसलिए उनको डरने की जरूरत नहीं है। उन्होंने कहा, एनआरसी पर बहस करने की कोई आवश्यकता नहीं है क्योंकि अभी इस पर कोई चर्चा नहीं हुई है। इस मामले में पीएम मोदी सही थे। मंत्रिमंडल या संसद मेंइस पर अभी तक कोई चर्चा नहीं हुई है। एनपीआर पर असदुद्दीन ओवैसी की आलोचना पर शाह ने कहा, अगर हम कहें कि सूर्य पूर्व से उगता है तो ओवैसी जी कहते हैं कि यह पश्चिम से उगता है। मैं विनम्रतापूर्वक दोनों मुख्यमंत्रियों से फिर से अपील करता हूं कि कृपया आप फैसलों की समीक्षा करें। अपनी राजनीति के लिए गरीबों को सिर्फ विकास कार्यक्रमों से बाहर न रखें। एनपीआर पर सरकार से संवाद का अभाव था। कुछ तो खामी रही होगी। मुझे स्वीकार करने में समस्या नहीं है। मगर संसद में मेरा भाषण देख लीजिये, उसमें मैंने सब स्पष्ट किया है। वह हमेशा हमारे रवैये का विरोध करते हैं। फिर भी मैं उन्हें फिर से विश्वास दिलाता हूं कि एनपीआर का एनआरसी से कोई लेना-देना नहीं है। अमित शाह ने कहा केरल और पश्चिम बंगाल में एनपीआर के लिए नहीं कहा गया है। 
 



अन्य ख़बरें

Beautiful cake stands from Ellementry

Ellementry