गेंदबाजी व फील्डिंग के दौरान नजर आयीं टीम की कई खामियां 


धाकड़ खबर | 08 Nov 2019


नई दिल्ली। टीम इंडिया की कमजोर कड़ी बना ये तेज गेंदबाज, लगातार 7 गेंद में दिए 7 चैके। भारत और बांग्लादेश के बीच राजकोट में खेला गया दूसरा टी20 मैच भले ही रोहित शर्मा की कप्तानी वाली टीम इंडिया ने जीत लिया हो, लेकिन इस मैच के दौरान गेंदबाजी व फील्डिंग के दौरान टीम की कई खामियां सामने आईं. जसप्रीत बुमराह, भुवनेश्वर कुमार और मोहम्मद शमी की गैरमौजूदगी में खलील अहमद के पास टीम में जगह पक्की करने का मौका था. इस तरह से उन्होंने 2 मैचों में लगातार 7 चैके खाए. खलील की टीम इंडिया की राह हुई मुश्किल। उन्होंने दोनों मैचों में लगातार शॉर्ट पिच गेंदबाजी की और इसका खामियाजा उन्हें भुगतना पड़ा. लेकिन जब भी उन्होंने गेंद को गुड लैंथ पर रखा या स्टंप्स के पास पिच कराया, तो बल्लेबाजों को रन बनाने में दिक्कत हुई. अपने इस प्रदर्शन से उन्होंने टी20 वल्र्ड कप के लिए टीम इंडिया में जगह बनाने की राह मुश्किल कर ली है. खलील अहमद ने राजकोट टी20 में अपने 4 ओवर के कोटे में 44 रन दिए और 1 विकेट लिया.


उन्होंने 11 की इकनॉमी से रन लुटाए, जबकि इस मैच से पहले टी20 मैचों में उन्होंने 8.81 रन प्रति ओवर दिए थे. राजकोट में उनकी गेंदों पर बांग्लादेशी टीम ने 9 चैके उड़ाए. यह किसी भी भारतीय गेंदबाजों में सबसे ज्यादा थे. बाकी गेंदबाजों में से किसी ने भी 2 से ज्यादा बाउंड्री नहीं दी. उन्होंने अपने कोटे के पहले ओवर में लगातार 3 चैके दिए.  इसके बाद दूसरे ओवर में लगातार 2 चैके दिए. उन्होंने जब भी गेंद शॉर्ट रखी तब उनकी गेंदों पर रन गए. लेकिन पहले दो टी20 मैचों में वे अपनी गेंदबाजी से प्रभावित करने में नाकाम रहे. दिल्ली में खेले गए पहले टी20 में जहां उन्होंने लगातार 4 चैके खाए थे और भारत ने मैच गंवा दिए थे. पिछले मैच में उनकी आखिरी 4 गेंदों पर 4 चैके गए थे. वहीं, राजकोट टी20 में भी खलील अहमद जब गेंदबाजी मोर्चे पर आए तो लगातार 3 चैकों से उनका स्वागत हुआ.

 


अन्य ख़बरें

Beautiful cake stands from Ellementry

Ellementry